बीएसएफ के 97 फीसद जवान ड्यूटी पर मिलने वाले भोजन से संतुष्ट

नई दिल्ली । सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) के 97 फीसद जवानों ने ड्यूटी पर तैनाती के दौरान मिलने वाले भोजन की गुणवत्ता पर संतोष जताया है। रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन (डीआरडीओ) की ओर से किए गए एक अध्ययन में यह बात कही गई है।

बीएसएफ के विशेष आग्रह पर यह अध्ययन तब किया गया, जब पिछले साल बीएसएफ के एक जवान ने सोशल मीडिया पर वीडियो डालकर दावा किया था कि जवानों को घटिया खाना दिया जा रहा है। पिछले साल शुरू किए गए अध्ययन में सीमा सुरक्षा बल के आठ फ्रंटियरों से भोजन की वरीयता एवं संतोष के स्तर के आंकड़े एकत्र कर यह अध्ययन किया गया। इन आठ फ्रंटियरों में चार पश्चिमी एवं चार पूर्वी कमान में हैं।

बीएसएफ ने एक बयान में कहा कि अलग-अलग क्षेत्रों एवं भौगोलिक इलाकों में 6,526 जवानों से बातचीत के बाद यह रिपोर्ट तैयार की गई है। इससे पता चलता है कि 97 फीसद जवान भोजन की मात्रा एवं गुणवत्ता से संतुष्ट हैं।

तेज बहादुर ने खाने पर उठाए थे सवाल

जम्मू के पुंछ में लाइन ऑफ कंट्रोल पर तैनात तेज बहादुर ने पिछले साल 9 जनवरी को सोशल मीडिया में वीडियो डालकर बीएसएफ जवानों को खराब खाना दिए जाने की शिकायत की थी। इस मामले ने काफी काफी तूल पकड़ा था। केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने भी बीएसएफ से इस मामले की पूरी जांच करने को कहा था। इस वीडियो के आने के बाद कई और जवानों के मिलते-जुलते वीडियो सामने आए थे। तेज बहादुर के आरोपों को लेकर बीएसएफ ने गृहमंत्रालय को अपनी पूरी रिपोर्ट भेजी थी। जिसमें तेज बहादुर के आरोप गलत पाए गए। उसके बाद उन्हें बर्खास्त कर दिया गया था।

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.